अनौपचारिक पत्र कैसे लिखें | Informal Letter Format in Hindi

Informal Letter Format in Hindi – आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे के अनौपचारिक पत्र कैसे लिखे। अनौपचारिक पत्र  क्या होता है. और Informal Letter Format कैसा होता है.

दोस्तों अगर आप भी अनौपचारिक पत्र जिसको अंग्रेजी में हम Informal Letter कहते हैं लिखना चाहते हैं पर आपको अनौपचारिक पत्र लिखने का सही तरीका या यूँ कहे के अनौपचारिक पत्र लिखने का सही फॉर्मेट नहीं पता तो आप इस पोस्ट को पूरा पढ़े. अगर आपको अनौपचारिक पत्र को लिखने में कोई भी परेशानी आ रही है तो आप बिलकुल सही पोस्ट पर आय हैं. क्यूंकि आज के इस पोस्ट में आपको बतायंगे के सही Informal Letter Format क्या होता है.

लेकिन उससे पहले जानते हैं के अनौपचारिक पत्र Informal Letter क्या होता है.

अनौपचारिक पत्र क्या है – What is Informal Letter In Hindi

Anopcharik Patra Meaning in Hindi – अनौपचारिक पत्र हम अपने पारिवारिक सदस्यों, दोस्तों, रिश्तेदारों, सेज सम्बन्धिओ को लिखते है. यहाँ पर हम कोई सुचना देने, खुसी या गम को बांटने, या अपनी बात को दूसरे तक पहुंचाने के लिए प्रयोग करते हैं. 

अनौपचारिक पत्र में जो भाषा का प्रयोग होता है वो रोज मर्रा की आम भाषा का ही होता है. 

अनौपचारिक पत्र में आप अपनी भावनाओ को व्यक्त कर सकते हैं. Informal Letter को लिखने के लिए आपको किसी ख़ास फॉर्मेट को फॉलो करने की जरूरत नहीं होती। 

अनौपचारिक पत्र में हम किसी को आमंत्रित करने, कुशल मंगल पूछने, बधाई देने, किसी का आभार व्यक्त करने के लिए करते हैं.

Read Also –

Application in Hindi Format

Patra Kitne Prakar Ke Hote Hain

Formal Letter Format in Hindi

अनौपचारिक पत्र का फॉर्मेट क्या है – Informal Letter Format in Hindi

वैसे तो अनौपचारिक पत्र को लिखने के लिए किसी फॉर्मेट को ज्यादा फॉलो करने की जरूरत नहीं होती। क्यूंकि अनौपचारिक पत्र हम सिर्फ अपने जानने वालो को भेजते है. ऐसे में कोई अनौपचारिक पत्र फॉर्मेट पर ज्यादा ध्यान नहीं देता। 

जैसे की औपचारिक पत्र में हमे फॉर्मेट का बहुत ज्यादा ध्यान देना होता है.

लेकिन आज के समय में अनौपचारिक पत्र कोई लिखता ही नहीं है. क्यूंकि ज्यादातर काम आज के समय में फ़ोन पर हो जाते हैं. 

ऐसे में अनौपचारिक पत्र जायदातर स्कूल में बच्चों को सिखाया जाता है जिससे उनको पता हो के अनौपचारिक पत्र और औपचारिक पत्र में फर्क क्या है.

और बच्चो की परीक्षा में भी लिखने को दे दिया जाता है के अनौपचारिक पत्र क्या है, अनौपचारिक पत्र क्या फॉर्मेट क्या है, informal letter in hindi cbse के हिसाब से लिखो।    

अगर आप अनौपचारिक पत्र को स्कूल की परीक्षा में लिख रहे हैं तो आपके लिए अनौपचारिक पत्र का फॉर्मेट बिलकुल सही लिखना बहुत जरूरी हो जाता है. क्यूंकि वहां पर आपको नंबर आपके सही अनौपचारिक पत्र फॉर्मेट पर ही मिलेंगे।

अनौपचारिक पत्र के प्रकार – Types Of Informal Letter In Hindi 

Informal letter in Hindi के ये कुछ प्रकार होते है.

  • बधाई पत्र
  • निवेदन पत्र
  • निमंत्रण पत्र
  • अनुमति पत्र
  • शुभकामना पत्र
  • सुझाव/सलाह पत्र
  • नाराजगी/खेद पत्र
  • आभार-प्रदर्शन पत्र
  • सूचना/वर्णन संबंधी पत्र
  • संवेदना/सहानुभूति/सांत्वना पत्र
  • क्षमायाचना एवं आश्वासन संबंधी पत्र

अनौपचारिक पत्र कैसे लिखें

  • सबसे पहले एक साफ़ कागज लें.
  • कागज आप किसी भी कॉपी से ले सकते हैं.
  • ध्यान रहे पत्र हमेशा उलटे हाथ की तरफ से लिखना शुरू होता है.
  • अब सबसे ऊपर अपना पता लिखें।
  • अब एक लाइन छोड़ के दिनांक लिखें।
  • अब एक लाइन और छोड़े।
  • अब जिसको पत्र लिख रहे हैं उसको सम्बोधित करें।
  • अगर आपसे बड़े है तो आदरणीय/ पूजनीय माताजी, चाचाजी, पिताजी, मामाजी, काकाजी का प्रयोग करे.
  • अगर आपसे छोटे या आपके बराबर के हैं उम्र में. तो प्रिय मित्र, भाई, बहन का प्रयोग करे.
  • अब अगली लाइन में पर में पर को लिखना शुरू करें।
  • यहाँ पर आपको जो भी अपनी बात कहनी है वो लिख सकते हैं.
  • ध्यान रहे जो भी आपको लिखना है उसको 3-4 पैराग्राफ बनाकर लिखें।
  • अब आखिर में पात्र को खतम करते हुए लिखे – आपका सुपुत्र, आपका बेटा, आपकी बेटी। 
  • अपने बराबर या छोटो के लिए आपका भाई, आपकी बहन, आपका मित्र।

अनौपचारिक पत्र लिखते समय ध्यान रखने वाली बातें

  • आपकी लिखने वाली भाषा बहुत ही सरल होनी चाहिए।
  • आपके जिसको पत्र लिख रहें उसको सम्बोशन करते हुए उसकी आयु का ध्यान रखें।
  • आपका पत्र छोटा और स्पष्ट होना चाहिए।
  • पत्र में हमेशा सब्जेक्ट लिखा होना चाहिए।
  • पत्र लिखते हुए मात्राओं का ध्यान रखे.
  • लेख आपका साफ़ होना चाहिए।
  • पत्र भेजने वाले का और जिसको भेज रहे हैं दोनों का पता साफ़ और सही से लिखा होना चाहिए।
  • अगर आप स्कूल में पत्र लिख रहे हैं तो अपनी कक्षा, और रोल नंबर जरूर लिखें।

अनौपचारिक पत्र का फॉर्मेट

अनौपचारिक पत्र का फॉर्मेट – Informal Letter Format In Hindi 

प्रेषक का पता 
………..
………..
………..

दिनांक……….
सम्बोधन………

अभिवादन ………. 

पहला अनुछेद ………

दूसरा अनुछेद ………. (यहाँ पर वो लिखें जो आप किसी को कुछ बताना चाहते हैं) ……….

तीसरा अनुछेद ………….. (समाप्ति) 

जिसको आप पत्र भेज रहे हैं उससे आपका सम्बंद 
प्रेषक का नाम ……..

अनौपचारिक पत्र के उदाहरण – Informal Letter Example

 Informal Letter Format in Hindi Image

मित्र को शादी की बधाई देने के लिये पत्र ( Hindi Informal Letter For Congratulation )

माकन नंबर 10,
A ब्लॉक, शास्त्री नगर,
कानपुर, उप्र

दिनांक : 15 अप्रैल, 2022

प्रिय मित्र आनंद

कैसे हो मेरे प्यारे मित्र, आशा करता हु सब कुशल मंगल होगा। आपके माता पिता को मेरा नमस्कार कहना। आपकी शादी का निमंत्रण प्राप्त हुआ. शादी का सुन के बड़ी खुसी हुई. हमारी भाबी को हमारा प्रणाम कहना।

आपकी शादी में ना आ पाने का मुझे अत्यंत दुःख है. घर में माताजी की तबियत खराब होने के कारन मैं आपकी शादी में नहीं सम्मिलित हो पाया। उसका मुझे अत्यंत खेद है.

आपके आने वाले जीवन में बहुत खुशियां आय इसकी सदैव कामना करता हु. मैंने आपकी शादी की खुसी में एक उपहार भेजा है. जो कुछ ही दिनों में आपको मिल जायगा। कैसा लगा मुझे जरूर बताना।

आपका मित्र
सूरज कुमार

Informal Letter In Hindi Image

बड़े भाई से जन्मदिन में प्राप्त हुए उपहार के लिए धन्यवाद ( Informal Letter In Hindi to Thanks brother for giving birthday gift )

माकन नंबर 126
रिठाला,
दिल्ली,

दिनांक : 15 अप्रैल, 2022

प्रिय भाई अभिनव,

उम्मीद करता हु आप कुशल मंगल होंगे। यहाँ पर मैं और माताजी पिताजी भी सब अच्छे है. उम्मीद करता हु आपकी नौकरी वहां पर अच्छी चल रही होगी। मेरे जन्मदिन पर आपके द्वारा भेजे गए उपहार में मिले फोन को प्राप्त करके मुझे अत्यंत खुसी हुई.

मुझे अपनी ऑनलाइन क्लास देखने के लिए फोन की काफी समय से जरूरत भी थी. मुझे मालूम नहीं था के आपको मेरी इस जरूरत का पता होगा। इतने अच्छे तोहफे को पाकर मैं बहुत खुस हुआ. आपका बहुत बहुत शुक्रिया इस उपहार के लिए.

आशा करता हु आप जल्दी ही समय निकाल कर घर पर सबसे मिलने आयंगे।

आपका प्यारा
कमल कुमार

Informal Letter In Hindi Image

मित्र को सरकारी नौकरी मिलने की खुसी में बधाई ( Informal Letter In Hindi to give Congratulation to friend for getting Govt. Job )

माकन नंबर 19,
A ब्लॉक, शांति नगर,
लखनऊ, उप्र

दिनांक : 15 अप्रैल, 2022

प्रिय मित्र राम,

कैसे हो मेरे प्यारे मित्र, आशा करता हु सब कुशल मंगल होगा। आपके माता पिता को मेरा नमस्कार कहना। आपके माता पिता से अभी मालूम पड़ा के आप जो इतने साल से लखनऊ में रहकर सरकारी नौकरी की तयारी कर रहे थे आज उस परिणाम आया और आपकी महनत सफल हुई.

आपकी सरकारी नौकरी लगने की आपको बहुत बहुत बधाई और शुबकामनाएं। आप ऐसे ही तरक्की करते रहे जीवन में.

आशा करता हु आप जल्दी ही मिलने आओगे। अपना ख्याल रखना।

आपका मित्र
श्याम कुमार

Read Also –

Kam Samay Me Jyada Paisa Kamane Ka Tarika

Bank Sathi App Se Paise Kaise Kamaye

India Mein Online Paise Kaise Kamaye

Instagram Se Paise Kaise Kamaye

निष्कर्ष 

दोस्तों आज हमने जाना के अनौपचारिक पत्र कैसे लिखे (Informal Letter Format in Hindi) और साथ ही अनौपचारिक पत्र क्या है (What is Informal Letter In Hindi). हमने ये भी जाना के Anopcharik Patra Meaning in Hindi  क्या है और अनौपचारिक पत्र के प्रकार (Types Of Informal Letter In Hindi) कितने होते हैं.

अगर आपको पोस्ट अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करे. 

आपको इस पोस्ट से जुड़ा कोई भी सवाल पूछना हो तो नीचे कमेंट करें. 

Informal Letter Format in Hindi से जुड़े FAQs 

Q. अनौपचारिक पत्र क्या होता है?

Ans. अनौपचारिक पत्र वो पत्र होते हैं जो हम अपने सेज सम्बन्धिओ, जानने वालों को, अपने मित्रो के लिए लिखते है.

Q. अनौपचारिक किसे लिखते हैं?

Ans. अनौपचारिक पत्र हम उनको लिखते है जिनसे हमारा व्यक्तिगत या निजी संबंध होता है।

Q. अनौपचारिक पत्र लिखने के लिए कैसी भाषा का उपयोग होता है?

Ans. अनौपचारिक पत्र लिखने के लिए सरल भाषा का उपयोग होता है?

Spread the love

Leave a Comment