बाघ के बारे में जानकारी | Information About Tiger In Hindi

about tiger in hindi

Information About Tiger In Hindi – दोस्तों आज हम जिस जानवर के बारे में बात करेंगे वो दुनिया के कुछ सबसे खूबसूरत, सबसे ताकतवर और खूंखार जानवरो में से एक है. आज हम बात करेंगे Tiger के बारे में जिसको हिंदी में हम बाघ कहते है. 

आज के इस पोस्ट में हम Information About Tiger In Hindi जानेंगे। दोस्तों जैसा की आपको पता होगा के बाघ हमारे देश का राष्ट्रीय पशु है. बाघ भी बिल्लिओ की ही प्रजाति का जानवर है. आज हम कुछ Interesting facts about tiger in Hindi भी जानेंगे और ये भी जानेंगे के बाघ क्या खाता है, कहा रहता है, बाघ के बारे में कुछ रोचक जानकारिया

Quick Facts & Information about Tiger in Hindi

• सामान्य नाम (Common Name): बाघ (Tiger)

• वैज्ञानिक नाम (Scientific Name): Panthera tigris

• जानवर का प्रकार (Type): स्तनपायी (Mammal)

• आहार (Diet): मांसाहारी पशु (Carnivore)

• औसत वजन (Average Weight): 360 kg

• लंबाई (Average Length): 11 ft

• औसत जीवनकाल (Lifespan): 15-20 साल

• गति (Average Speed): 49 – 65 km/h

• समूह का नाम (Group Name): ambush या streak

• निवास-स्थान (Habitat): खुले घास के मैदान, सवाना, वर्षावन और मैंग्रोव दलदल (mangrove swamps)

• मुख्य भोजन (Main Food): मूस, हिरण, सूअर, गाय, घोड़े, भैंस और बकरियाँ

Information About Tiger In Hindi

बाघ पूरी दुनिया में बस एशिया महद्वीप में ही पाया जाता है, और सबसे ज्यादा ये भारत में ही है. भारत में बाघ को बंगाल टाइगर के नाम से भी जाना जाता है. बाघ का रंग हल्का पीला और भूरा होता है. बाघ के शरीर पर काली पट्टी (धारियां) होती है जिनकी वजह से ये दूर से ही पहचान में आ सकता है के ये बाघ है. काली पट्टी होने से बाघ के लिए फायदा ये भी है के ये आराम से पेड़ पोधो में छिप सकता है और इसी वजह से बाघ छिप के आराम से शिकार कर पाता है. 

बाघ का पेट सफ़ेद होता है. बाघ की सबसे ख़ास बात ये है के जैसे हर मनुष्य के फिंगर प्रिंट अलग होते है ठीक ऐसे ही बाघ के ऊपर जो काली धारिया होती है वो भी एकदम अलग होती है. किसी भी बाघ की पट्टी किसी दूसरे बाघ से मेल नहीं खाती।

About Tiger In Hindi

बाघ के चार पैर और एक पूँछ होती है. बाघ के दांत बहुत नुकीले और मजबूत होते है. जिससे वो बड़े से बड़े जानवर का शिकार करके उसको आराम से चिर फाड़ सकता है. बाघ के पंजे भी बहुत तकतवर और खतरनाक होते है, साथ ही पंजो के नाखून काफी नुकीले होते है जिस वजह से शिकार के समय जब बाघ अपने पंजे के नाखुनो को शिकार में गाड़ देता है तो शिकार का पंजो से छूटकर निकलना नामुमकिन हो जाता है. 

एक वयस्क बाघ के लम्बाई 9 फीट तक हो सकती है. और एक बड़े बाघ का वजन 300 से 400 किलो तक होता है. हालांकि एक मादा बाघ लम्बाई और वजन दोनों में ही नर बाघ से कुछ कम होती है.

आपको जानकार हैरानी होगी की बाघ 45 से 60 किलोमीटर प्रति घण्टे की रफ्तार से दौड़ सकते है. वैसे तो बाघ बिल्लिओ की ही प्रजाति का जानवर है पर ये बिल्लिओ से काफी बड़ा और खतरनाक होते है. बाघ और बिल्लिओ का डीएनए 95 फीसदी तक मिलता है।

Complete Information About Tiger In Hindi 

  • बाघ को अंग्रेजी में Tiger कहते है और बाघ का Scientific (वैज्ञानिक) नाम पैंथेरा टिगरिस है। 
  • Tiger भारत में आम तौर पर पश्चिम बंगाल, सुंदरवन, असम, त्रिपुरा और मध्य भारत के घने जंगल में पाया जाता है।
  • कुछ बाघों का रंग सफ़ेद भी होता है, हालांकि अब सफ़ेद बाघ बहुत कम रह गए है.
  • आपको जानकर आश्चर्य होगा के बाघ रात के समय में इंसानो से 6 गुना ज्यादा अच्छा देख सकते है, इनकी आँखे रात में दिए की तरह जल्दी हुई दिखाई पड़ती है. सफ़ेद बाघों की आँखों का रंग नीला होता है.
  • Tiger दिन में सोता है आराम करता है और रात के समय में शिकार करता है. बाघ की सूंघने की क्षमता भी बहुत तेज होती है. जिससे tiger को शिकार करने में बहुत आसानी होती है.
  • बाघ के ऊपरी जबड़े में 2 और नीचे के जबड़े में 2 पैने दांत होते है. इन्ही से बाघ शिकार को पकड़ता है और उनका गाला घोंठ के मार देता है,
  • बाघ अपनी लमि पूँछ के कारन तेज दौड़ते हुए और शिकार के पीछे भागते हुए बड़ी आसानी से अपना संतुलन बना सकते है. इसी पूँछ की वजह से ये काफी तेज दौड़ सकता है.
  • आज के समय में बाघों का अस्तित्व खतरे में है। अवैध बाघों के शिकार और घटते जंगल इसका विशेष कारण है। वर्तमान में केवल 3900 बाघ ही बचे है।
  • मादा बाघ यानि की बाघिन करीब 4 महीने तक गर्भ धारण करती है और इसके बाद 4 से 5 बच्चो को जन्म देती है। बाघ के बच्चे जन्म से 1 सप्ताह तक देख नही पाते है। और बाघ को तैरना भी आता है.
  • बाघ एक बार में 10 मीटर तक भी कूद सकता है।

बाघ की उप-प्रजातियां (Subspecies of Tiger In Hindi)

  • साइबेरियन बाघ (Siberian Tigers)
  • इंडोचाइनीज बाघ (Indo-Chinese Tiger)
  • बंगाल टाइगर (Bengal Tiger)
  • सुमात्रा बाघ (Sumatran Tiger)
  • मलायन बाघ (Malayan Tiger)
  • दक्षिण चीन टाइगर (South China Tiger)

बाघ के बारे में रोचक तथ्य (Interesting facts About Tiger in Hindi)

  • बाघ मासाहारी जानवर है, जो निशाचर है.
  • बाघ को अकेले रहना और अकेले ही शिकार करना पसंद है.
  • बाघ 60 किमी/घंटा की रफ़्तार से दौड़ सकता है.
  • बाघ को अच्छी तरह से तैरना आता है और इसको पानी में रहना भी पसंद है, साथ ही में ये मछलिओं का शिकार भी करता है.
  • बाघों के एक समूह को अंग्रेजी में ambush or streak कहा जाता है
  • बाघ की हड्डियों का उपयोग जोड़ों के दर्द, कठोरता, पीठ-दर्द, गठिया और मांसपेशियों की ऐंठन को ठीक करने के लिए किया जाता है।

निष्कर्ष 

बाघ भारत का राष्ट्रीय जानवर है जो अब विलुप्ति की कगार पर है. ज्यादा शिकार के कारन आज बाघ ख़त्म होने वाले है. परन्तु भारत सरकार के प्रयासों के कारन अभी स्तिथि थोड़ी सही है. हमे भी बाघ और दूसरे जानवरो से बानी चीजे नहीं खरीदनी चाइये जिससे इनका शिकार खुद बंद हो जाये।

आज के इस पोस्ट में हमने बाघ के बारे में जानकारी दी है (Information About Tiger In Hindi). बाघ क्या खाते है और कहा रहते है वो सब बताया है. और कुछ Interesting facts about Tiger in Hindi भी बताये है.

आपको ये पोस्ट कैसा लगा हमे जरूर बताये। और पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ सहरे करना ना भूले।

Popular Posts

उत्तर प्रदेश में कितने जिले है.

भारत के कितने नाम हैं

गूगल मेरा नाम क्या है

बेस्टी का मतलब क्या होता है

Information About Tiger in Hindi से जुड़े FAQs 

बाघ के बच्चे को क्या कहते है?

बाघ के बच्चे को शावक (Cubs) कहते है. और मादा बाघ को बाघिन (Tigress) कहते है.

बाघ कसिका शिकार करते है?

बाघों का पसंदीदा शिकार छोटे जंगली जानवर है जैसे हिरन, जंगली सूअर, और भैंस जैसे जानवरो का शिकार करते है.

बाघ का जीवनकाल कितने समय का होता है?

Tiger का जीवनकाल 10 वर्ष तक होता है। अगर सही से देखभाल करि जाये तो 20 वर्ष तक भी बाघ जी सकता है.

बाघ दिवस कब मनाया जाता है?

विश्व बाघ दिवस प्रतेक वर्ष 29 जुलाई को मनाया जाता है।

बाघ को राष्ट्रीय पशु कब घोषित किया गया?

भारत सरकार ने बाघ को भारत का राष्ट्रीय पशु (National Animal) अप्रैल 1973 में बाघ परियोजना के तहत घोषित किया।

बाघ का वैज्ञानिक नाम क्या है?

बाघ का वैज्ञानिक नाम पैंथेरा टिगरिस है।

बाघ कहाँ पाए जाते हैं?

बाघ – भारत, नेपाल, चीन, रूस, भूटान, म्यांमार, कंबोडिया, लाओस, वियतनाम, थाईलैंड, सुमात्रा (इंडोनेशिया) और मलेशिया में पाए जाते हैं।

सबसे ज्यादा बाघ किस देश में पाए जाते हैं?

दुनिया भर में कुल बाघों में से 70 प्रतिशत बाघ भारत में हैं।

देश में सर्वाधिक बाघ किस राज्य में है?

देश में सबसे अधिक बाघ मध्य प्रदेश में हैं.

बाघ कितने प्रकार के होते हैं?

बाघ 6 प्रकार के होते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here