स्टेट स्पेसिफिक आईडी क्या होती है | What Is State Specific Id In Hindi

State Specific Id In Hindi – आज के समय में स्टेट स्पेसिफिक आईडी का होना बहुत जरूरी हो गया है. क्यूंकि बहुत सारी सरकार की ऐसी स्कीम और पालिसी होती है जिनको हम State Specific Id के बिना नहीं ले सकते। आप चाहे किसी भी प्रदेश से क्यूँ ना हों आपके पास State Specific Id होनी चाइये। पर अब सवाल आता है के आखिर स्टेट स्पेसिफिक आईडी क्या होती है (what is state specific Id).

हर राज्य का अपना एक अलग से स्टेट स्पेसिफिक आई डी होता है जिससे हम उस राज्य के निवासी कहलाते है. ये बहुत तरह के हो सकते है. और हर राज्य के अलग भी हो सकते है.

अगर आप इस पोस्ट को पढ़ रहे हैं तो आपको भी यही जानना होगा के what is state specific Id. तो चलिए आगे जानते है के स्टेट स्पेसिफिक आईडी क्या होती है.

स्टेट स्पेसिफिक आईडी क्या होती है | What Is State Specific Id In Hindi?

स्टेट स्पेसिफिक आईडी  जो ये प्रमणित करे के आप इस राज्य के स्थायी निवासी हैं. आप काफी सालों से इस राज्य में रह रहे हैं. जो भी डॉक्यूमेंट ये प्रमणित कर दे वही स्टेट स्पेसिफिक आईडी होती है.

जैसे की राशन कार्ड, मनरेगा कार्ड, बी पी ल कार्ड, इ शर्म कार्ड आदि.

सीधे अक्षरों में कहे तो जो भी डॉक्यूमेंट ये बता दे के आप किस राज्य के निवासी है वही state specific id होता है. ये आपके पासपोर्ट, आधार और पैन कार्ड से अलग होता है. क्यूंकि ये बस राज्य तक सीमित रहता है. स्टेट स्पेसिफिक आईडी का सबसे बड़ा उदहारण है राशन कार्ड। राशन कार्ड हर राज्य का अलग होता है. 

लेकिन हाँ आज के समय में सरकार के नए नियम के अनुसार आप किसी भी राज्य के राशन कार्ड से किसी भी राज्य में राशन प्राप्त कर सकते है. 

स्टेट स्पेसिफिक आईडी और नार्मल डॉक्यूमेंट में अंतर

स्टेट स्पेसिफिक आईडी और नार्मल डॉक्यूमेंट में अंतर तो वैसे ज्यादा नहीं है. जो मुख्य अंतर है वो ये है के नार्मल आईडी जैसे आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर कार्ड आपको पुरे देश में कही पर दिखाने पर ये प्रमाणित करता है के आप इस देश यानि भारत के नागरिक है. 

पर अगर आप स्टेट स्पेसिफिक आईडी की बात करे तो वो आपको बस किसी राज्य तक ही सिमित रखती हैं. आप अगर उनको अपने राज्य से बहार इस्तेमाल करना चाहें तो आपको थोड़ी मुश्किल हो सकती है.

एक और जो दोनों में अंतर है वो ये है के आधार कार्ड, और वोटर कार्ड पर आपका परमानेंट ऐड्रेस तो जरूर होता है पर इससे ये प्रमाणित नहीं करता के आप इस पते पर या इस राज्य में कबसे रह रहे है.

लेकिन जो स्टेट स्पेसिफिक आईडी होती है जैसे राशन कार्ड वो ये प्रमाणित करता है के आप इस पते या इस सहर राज्य में कबसे रह रहे है.

State Specific ID वाले राज्य

No.HindiEnglishState Specific ID
1.आंध्र प्रदेशAndhra PradeshAP
2.अरुणाचल प्रदेशArunachal PradeshAR
3.असमAssamAS
4.बिहारBiharBR
5.छत्तीसगढ़ChhattisgarhCG
6.गोवाGoaGA
7.गुजरातGujaratGJ
8.हरियाणाHaryanaHR
9.हिमाचल प्रदेशHimachal PradeshHP
10.जम्मू और कश्मीरJammu And KashmirJK
11.झारखंडJharkhand JH
12.कर्नाटकKarnatakaKA
13.केरलKeralaKL
14.मध्य प्रदेशMadhya PradeshMP
15.महाराष्ट्रMaharashtraMH
16.मणिपुरManipurMN
17.मेघालयMeghalayaML
18.मिजोरमMizoramMZ
19.नागालैंडNagalandNL
20.उड़ीसाOrissaOR
21.पंजाबPunjabPB
22.राजस्थानRajasthanRJ
23.सिक्किमSikkimSK
24.तमिलनाडुTamil NaduTN
25.त्रिपुराTripuraTR
26.उत्तराखंडUttarakhandUK
27.उत्तर प्रदेशUttar PradeshUP
28.पश्चिम बंगालWest BengalWB
29.तमिलनाडुTamil NaduTN
30.त्रिपुराTripuraTR
31.अंडमान और निकोबार द्वीप समूहAndaman And Nicobar IslandsAN
32.चंडीगढ़ChandigarhCH
33.दादरा और नगर हवेलीDadra And Nagar HaveliDH
34.दमन और दीवDaman And DiuDD
35.दिल्लीDelhiDL
36.लक्षद्वीपLakshadweepLD
37.पांडिचेरीPondicherryPY

निष्कर्ष 

तो दोस्तों आज हमने जाना के स्टेट स्पेसिफिक आईडी क्या होती है (What Is State Specific Id In Hindi), स्टेट स्पेसिफिक आईडी के क्या फायदे है और स्टेट स्पेसिफिक आईडी कहा कहा इस्तेमाल होती है. अगर आपका कोई भी सवाल हो स्टेट स्पेसिफिक आईडी से जुड़ा तो आप हमे निचे कमेंट में पूछ सकते है. 

आपको हमारा ये आर्टिकल कैसा लगा हमे जरूर बताये. अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे. 

What Is State Specific Id In Hindi FAQs 

Q. स्टेट स्पेसिफिक आईडी क्या है?

स्टेट स्पेसिफिक आईडी किसी राज्य में मान्य आईडी होती है जो ये प्रमाणित करती है के आप उस राज्य के निवासी है.

Q. स्टेट स्पेसिफिक आईडी कोनसी है?

राशन कार्ड को हम स्टेट स्पेसिफिक आईडी कहते है.

Spread the love

Leave a Comment